30 दिसंबर के बाद भी जारी रहेगी नकद निकासी पर लगी सीमा!!

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। नोटबंदी की उल्टी गिनता शुरु हो गई है और इसके साथ ही सरकार की सारी मशीनरियां भी 30 दिसंबर, 2016 के बाद के हालात से निपटने के लिए कमर कस चुकी हैं। वित्त मंत्री अरूण जेटली के स्तर पर रिजर्व बैंक, भारतीय स्टेट बैंक समेत कुछ अन्य बैंकों के शीर्ष अधिकारियों के साथ विचार विमर्श का दौर शुरु हो चुका है। अभी तक इस बात का कोई संकेत नहीं है कि 30 दिसंबर के बाद बैंक खाते से नकदी निकालने की मौजूदा सीमा को हटा लिया जाएगा।

Image result for notebandi हां, सरकार इस बात पर जरूर विचार कर रही है कि मौजूदा 24 हजार रुपये की सीमा को थोड़ा बढ़ाया जाए लेकिन यह फैसला पूरी तरह से अंतिम नकद की स्थिति को देखते हुए उठाया जाएगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो बजट सत्र शुरु होने पहले यह फैसला किया जाएगा।

ये भी देखें   Paytm को लगा चुके लोग चुना - आप कैसे बचोगे इ-धोकाधड़ी से

Image result for notebandi

वित्त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक बैंकों के साथ बैठक में यह बात सामने आई है कि वह नकदी की पूरी सीमा अभी हटाने के पक्ष में नहीं है। लेकिन सरकार ने उन्हें एक लक्ष्य हासिल करने को कहा है। वह है 30 दिसंबर के बाद उनके हर एटीएम से नकदी निकलने लगे। अगर बैंकों की तरफ से यह वादा किया जाता है कि वह हर एटीएम के पास नकदी पहुंचा देंगे तो एटीएम से नकदी निकासी की मौजूदा 2500 रुपये की सीमा को भी बढ़ाया जा सकता है। इसके लिए आरबीआइ को 500 के नए नोटों की आपूर्ति बढ़ाने को कहा गया है।

Image result for notebandi rbi

आरबीआइ ने कहा है कि वह 500 के नए नोटों की आपूर्ति बढ़ाने को तैयार है। अभी कितने एटीएम से नकदी निकल रही है इसका कोई ठोस आंकड़ा तो नहीं है लेकिन तकरीबन 50 फीसद एटीएम से नकदी निकासी हो रही है। वैसे सारे एटीएम नए करेंसी निकालने के योग्य (रिकैलिब्रेटेड) बना दिये गये हैं।

ये भी देखें   अगर चाहते हैं रोगों से छुटकारा तो दूध में काली मिर्च और जीरा डाल कर पिएं

 

बैंकों ने अपने ग्राहकों से हुई बातचीत के आधार पर सरकार को यह बताया है कि 30 दिसंबर को नोटबंदी खत्म होने के बाद अगर निकासी सीमा हटाई गई तो बड़े पैमाने पर नकदी की मांग आएगी। तमाम उद्योग जगत से जुड़े लोग, कंपनियां नकदी निकासी सीमा के हटने का इंतजार कर रही हैं। मझोले व छोटे उद्यमियों की तरफ से भी इस बात के संकेत मिले हैं कि वे नकदी निकासी सीमा के हटने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में सरकार बाजार में नकदी की स्थिति का अभी और आकलन करना चाहती है।

Image result for notebandi

रिजर्व बैंक की तरफ से जो अभी तक के आंकड़े दिए गए हैं उसके मुताबिक 19 दिसंबर तक 5,92,613 करोड़ रुपये के नए नोट जारी किये गये हैं। जबकि सरकार ने 500 व 1000 रुपये नोट के 14.70 लाख करोड़ रुपये प्रचलन से बाहर करने का फैसला किया था। इस तरह से जितने रुपये सिस्टम से बाहर हुए हैं उसका आधा भी बाजार में डाला नहीं जा सका है।

ये भी देखें   अर्ज़ है ..कुछ शेर ओ शायरी !!

इसकी ज़्यादा जाकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

 

कृपया आगे शेयर करें :

Related posts:

1 Comment

  1. Do you have a spam problem on this blog; I also am a blogger, and I was wanting to know your
    situation; we have created some nice practices and we are looking to swap
    strategies with others, please shoot me an e-mail if interested.

Comments are closed.