लड़कियों से ब्याज सहित वसूली जाती थी उनकी कीमत

नई दिल्ली
दिल्ली में जिस सेक्स रैकेट का पर्दाफाश हुआ है, उससे जुड़ी बहुत सारी भयावह कहानी एक-एक करके सामने आ रही है। दूरदराज के इलाकों में रहने वाली लड़कियों को दिल्ली में अच्छी जॉब, घुमाने या शादी करने का झांसा देकर उन्हें जीबी रोड के इन कोठों में ले जाकर बेच दिया जाता था। इन लड़कियों को दलालों से एक लाख रुपये से लेकर दो लाख रुपये में खरीदा जाता था। पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि रैकेट में शामिल लोग यह कीमत खरीदी गई लड़कियों से 8 पर्सेंट से लेकर 10 पर्सेंट ब्याज के साथ वसूल करते हैं। कई लड़कियां देह व्यापार करते-करते बूढ़ी हो जाती है, लेकिन वह यह रकम नहीं चुका पाती। पुलिस मुख्य आरोपियों सहित चार लोगों को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। अधिकारियों को आशंका है कि इस रैकेट के तार सीमापार से भी जुड़े हो सकते हैं।
Image result for rape clipart

ये भी देखें   सेक्स स्वास्थ्य के लिए कौन कौन से फल खाएं

जॉइंट सीपी रवींद्र यादव ने बताया कि जीबी रोड के इन कोठों से देह व्यापार का संगठित रैकेट चलाने वाली इस दंपती ने अपने एजेंट छोड़े हुए है। एजेंट नेपाल, आंध्र प्रदेश, हैदराबाद, बिहार और झारखंड के अलावा नॉर्थ ईस्ट के राज्यों से गरीब परिवारों की लड़कियों को दिल्ली में अच्छी जॉब, घुमाने या शादी करने का झांसा लेकर आते थे।

Image result for rape clipart
दिल्ली लाने के बाद दलाल उन्हें जीबी रोड पर इन कोठों पर बेचकर फरार हो जाते थे। इसके बाद उन लड़कियों को जबरन देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया जाता था। जो लड़की उनकी बात नहीं मानती थी उसे न केवल नशीली दवाइयां दी जाती थी, बल्कि उसे तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाता था। लड़कियों को डराने और धमकाने के लिए यहां अलग से मसलमैन रखे हुए हैं। लड़की जब पूरी तरह से टूट जाती थी, तो वह देह व्यापार का धंधा करने में ही अपनी सलामती समझती थी।
Image result for rape clipart
लड़की देह व्यापार से जो पैसे कमाती थी, वह कोठों पर रखी गई मैनेजर अपने पास रख लेती है। लड़की को बताया जाता कि उन्होंने उसे एक लाख या दो लाख रुपये में खरीदा है। जब तक वह ब्याज सहित उनकी रकम नहीं लौटा देती, तब तक वह कोठे की सीढ़ियों से नीचे पैर भी नहीं रख सकती। इस तरह से कई लड़कियां अपनी पूरी जिंदगी इस धंधे में लगा देती है, लेकिन वह यह रकम नहीं लौटा पाती।

Image result for rape for money clipart
क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने इस बात का भी खुलासा किया कि दंपत्ति को लग्जरी कारों का शौक। पुलिस ने उनके ठिकानों पर छापा मारकर फॉर्च्युनर, टोयटा इनोवास और होंडा की चार कार बरामद की। तफ्तीश में पुलिस को यह भी पता चला कि अफाक हुसैन (43) और सायरा बेगम (45) के तीन बच्चे हैं। इनमें से सबसे छोटी बेटी देहरादून स्थित स्कूल में छठी क्लास में पढ़ती है, जबकि बड़ी बेटी बेंगलुरु में 12वीं और बेटा 11वीं क्लास में पढ़ रहे हैं।
सौजन्य से :- नवभारत डॉट कॉम
ये भी देखें   918 लोगों ने किया था सुसाइड-हर तरफ बिखरी थी लाशें

कृपया आगे शेयर करें :

Related posts:

6 Comments

  1. 856919 219081This really is sensible information! Exactly where else will if ind out far more?? Who runs this joint too? sustain the very good function 337053

  2. 101674 645087Attractive part of content material. I just stumbled upon your web site and in accession capital to claim that I acquire in fact enjoyed account your weblog posts. Any way Ill be subscribing to your feeds and even I achievement you get entry to constantly swiftly. 799812

  3. Can I just say what a relief to find someone who actually knows what theyre talking about on the internet. You definitely know how to bring an issue to light and make it important. More people need to read this and understand this side of the story. I cant believe youre not more popular because you definitely have the gift.

  4. I keep listening to the news update lecture about getting free online grant applications so I have been looking around for the finest site to get one. Could you advise me please, where could i acquire some?

Comments are closed.