वैलेंटाइन क्यों मनाते है ?

इतिहास में आजः 14 फरवरी
तीसरी शताब्दी में आज ही के दिन रोम में क्लाउडियस द्वितीय के शासन के दौरान वैलेंटाइन को फांसी पर चढ़ाया गया था. इसी के बाद से दुनिया में वैलेंटाइन्स डे के नाम इसे मनाया जाता है।

st-valentine
रोम में सम्राट क्लाउडियस के क्रूर शासन के दौरान कई अलोकप्रिय और खूनी अभियान चलाए गए. सम्राट को शक्तिशाली सेना को बनाए रखने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था. क्लाउडियस को लगता था कि रोम के लोग अपनी पत्नी और परिवारों के साथ मजबूत लगाव होने की वजह से सेना में भर्ती नहीं हो रहे हैं. इस समस्या से निजात पाने के लिए क्लाउडियस ने रोम में शादी और सगाई पर पाबंदी लगा दी।

ये भी देखें   जैकलिन फर्नांडीज की हॉट फोटो आपके दिल को घायल कर देगी..

लेकिन पादरी वैलेंटाइन ने सम्राट के आदेश को लोगों के साथ नाइंसाफी के तौर पर महसूस किया. सम्राट के आदेश को चुनौती देते हुए वैलेंटाइन चोरी छिपे युवा प्रेमी जोड़ों की शादी कराते थे. जब वैलेंटाइन के काम के बारे में क्लाउडियस को पता चला तो उसने पादरी की हत्या का आदेश जारी किया. वैलेंटाइन को गिरफ्तार कर अदालत के सामने पेश किया गया. अदालत ने वैलेंटाइन को मौत की सजा सुनाई।
14 फरवरी 270 को वैलेंटाइन को मौत की सजा दी गई. ऐसा भी कहा जाता है कि संत वैलेंटाइन ने जेल में रहते हुए जेलर की बेटी को खत लिखा था, जिसमें अंत में उन्होंने लिखा था “तुम्हारा वैलेंटाइन.” वैलेंटाइन के प्रेम के संदेश को आज भी लोग दुनिया में जिंदा रखे हुए हैं. वैलेंटाइन को इस महान सेवा के लिए संत की उपाधि दी गई. तब से लेकर हर साल दुनिया भर में 14 फरवरी को वैलेंटाइन्स डे के तौर पर मनाया जा रहा है। इस दिन लोग एक दूसरे को फूल, चॉकलेट और उपहार देकर अपने स्नेह का इजहार करते हैं।

कृपया आगे शेयर करें :

Related posts:

6 Comments

  1. 389231 353438Previously you need to have highly effective internet business strategies get you started of acquiring into topics suitable for their web-based organization. educational 801932

  2. 708786 5407Aw, this was a really good post. In concept I wish to put in writing like this moreover ?taking time and precise effort to make an superb write-up?but what can I say?I procrastinate alot and undoubtedly not appear to get 1 thing done. 601761

  3. I will immediately seize your rss feed as I can’t to find your e-mail subscription hyperlink or newsletter service. Do you’ve any? Please permit me realize in order that I could subscribe. Thanks.

  4. After study a couple of of the blog posts in your website now, and I really like your method of blogging. I bookmarked it to my bookmark web site record and will likely be checking again soon. Pls check out my web site as properly and let me know what you think.

  5. Thank you a bunch for sharing this with all of us you actually understand what you’re speaking approximately! Bookmarked. Please also consult with my website =). We may have a hyperlink alternate arrangement among us!

Comments are closed.