10 जुलाई की ऐतिहासिक घटना।

इतिहास में आज: 10 जुलाईभारत के हाथों 1971 में पाकिस्तान को मिली हार के बाद पूर्वी पाकिस्तान स्वतंत्र हुआ. 1973 में आज ही के दिन पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली ने बांग्लादेश को स्वतंत्र देश स्वीकारने वाला प्रस्ताव पास किया।

1947 में भारत और पाकिस्तान के विभाजन के साथ ही पाकिस्तान में भी दो हिस्सों ने जन्म लिया। एक हिस्सा पूर्वी पाकिस्तान जो ज्यादा समृद्ध था और दूसरा पश्चिमी पाकिस्तान जो राजनीतिक रूप से ज्यादा हावी था। पश्चिमी पाकिस्तान में सिंध, पठान, बलोच और मुहाजिरों की ज्यादा तादाद थी जबकि पूर्वी पाकिस्तान में बंगाली बोलने वाले थे. देश की राजनीति में पूर्वी पाकिस्तान का ज्यादा दखल नहीं था. लोग इस बात से खुश नहीं थे. वहां के के नेता शेख मुजीब-उर-रहमान ने अवामी लीग का गठन किया और 1970 में भारी मतों से जीत हासिल की. लोग क्या चाहते हैं यह बात अब साफ थी. संसद में बहुमत हासिल करने के बाद भी उन्हें प्रधानमंत्री बनाने की बजाय जेल में डाल दिया गया और यहीं से पाकिस्तान के विभाजन की नींव पड़ी.पूर्वी पाकिस्तान में हो रहे मानवाधिकारों के हनन के खिलाफ लोगों ने खड़े होने का फैसला किया। 25 मार्च 1971को शुरू हुए ऑपरेशन सर्चलाइट से लेकर पूरे बांग्लादेश कीआजादी की लड़ाई के दौरान पूर्वी पाकिस्तान में जमकर हिंसा हुई। लाखों लोगों की मौत हुई, महिलाओं और बच्चों पर भी भारी जुल्म हुआ। पूर्वी पाकिस्तान के लोगों के दमन के खिलाफ भारत ने भी पड़ोसी होने के नाते आवाज उठाई और 1971में पाकिस्तान के साथ युद्ध कर उसे पीछे लौटने पर विवश किया। 16 दिसंबर 1971 को स्वतंत्र पूर्वी पाकिस्तान, बांग्लादेश बना।

कृपया आगे शेयर करें :

Related posts:

ये भी देखें   इस समुदाय के लोग अपनी बहुओं से करवाते हैं यह घिनौना काम